SECTION 324 IPC IN HINDI पूरी जानकारी

हेलो दोस्तों कैसे हैं आप सभी आशा करता हूं आप अच्छे होंगे आज हम आपके साथ एक महत्वपूर्ण कानूनी जानकारी साझा करना चाहूंगा इस लेख के माध्यम से मेरा हमेशा से यही प्रयास रहा है कि ज्यादा से ज्यादा जानकारियां आप लोगों तक पहुंचाता  रहू

जो भी मेरा अनुभव है वह सभी इस लेख के माध्यम से मैं आप सबको महत्वपूर्ण कानूनी जानकारी हूं से अवगत कराने वाला हूं धारा 324 भारतीय दंड संहिता के बारे में चर्चा करने वाला हूं क्या होती है भारतीय दंड संहिता की धारा 324 और क्या है इसमें दंड के प्रावधान इन सब विषयों पर विस्तार से चर्चा करते हैं।

धारा 324 आईपीसी क्या है(What is IPC 324 in Hindi)

धारा 324 भारतीय दंड संहिता के अंतर्गत

IPC 1860 की धारा 324 :- खतरनाक हथियारों या साधनों से स्वेच्छा से चोट पहुँचाना –

जो कोई, धारा 324 द्वारा प्रदान किए गए मामले को छोड़कर, स्वेच्छा से गोली मारने, छुरा घोंपने या काटने के लिए किसी भी उपकरण के माध्यम से, या किसी भी उपकरण के माध्यम से चोट का कारण बनता है, जिसका उपयोग अपराध के हथियार के रूप में किया जाता है,

जिससे मृत्यु या आग लगने की संभावना होती है या कोई गर्म पदार्थ, या किसी जहर या किसी संक्षारक पदार्थ के माध्यम से, या किसी विस्फोटक पदार्थ के माध्यम से या किसी भी पदार्थ के माध्यम से जो मानव शरीर के लिए हानिकारक है, निगलने के लिए, या रक्त में प्राप्त करने के लिए, या किसी भी जानवर के माध्यम से, किसी एक अवधि के लिए कारावास से दंडित किया जाएगा, जिसे तीन साल तक किया  सकता है, एवं अर्थ दण्ड  के साथ।

लागू अपराध ?

इस धारा के अधीन अपराध  संज्ञेय जमानतीय  ओर अशमनीय  है ओर किसी भी मजिस्ट्रेड  द्वारा विचारणीय है 

आईपीसी धारा 324 में सजा का प्रावधान (Punishment in IPC Section 324 in Hindi)

 धारा 324 आईपीसी के अनुसार यदि कोई व्यक्ति किसी अन्य व्यक्ति को जानबूजकर उसपे किसी खतरनाक हथियार से हमला करता है जिससे उस व्यक्ति को गंभीर चोट लग जाती है।

तब ऐसे व्यक्ति को न्यायालय आजीवन कारावास या फिर उसे साधारण कारावास या 3 वर्ष की कारावास एव आर्थिक दण्ड से भी दंडनीय होगा  कोर्ट द्वारा इस अपराध में सजा आरोपी की गंभीरता को देखते हुए निर्धारित करती है की अपराधी ने किस प्रकार का अपराध किया है 

 

भारतीय दंड संहिता 1860 की धारा 324 से संबंधित भारत के सर्वोच्च न्यायालय के महत्वपूर्ण निर्णय और केस कानून:

 

  1. प्रवत चंद्र मोहंती बनाम ओडिशा राज्य 11 फरवरी, 2021 State
  2. याकूब अब्दुल रजाक मेमन बनाम महाराष्ट्र राज्य: सीबीआई 21 मार्च, 2013 को
  3. एस्सा @ अंजुम अब्दुल रजाक मेमन बनाम महाराष्ट्र राज्य Tr.Stf, सीबीआई 21 मार्च, 2013 को
  4. गोपाल सिंह बनाम उत्तराखंड राज्य 8 फरवरी, 2013 State
  5. देवी सिंह बनाम मध्य प्रदेश राज्य गृह 5 सितंबर, 2018 को
  6. नरेश बनाम उत्तराखंड राज्य 25 अप्रैल, 2018
  7. कट्टुकुलंगरा माधवन बनाम मजीद और अन्य 30 मार्च, 2017 Or
  8. शीतला प्रसाद और अन्य बनाम श्री कांत और अन्य 17 दिसंबर, 2009 को
  9. के. नागमल्लेश्वर राव और अन्य बनाम आंध्र प्रदेश राज्य 14 मार्च, 1991
  10. मुथु नायकर और अन्य। बनाम तमिलनाडु राज्य 10 अगस्त, 1978 State

 

मुझे लगता है कि यह चर्चा करना बहुत दिलचस्प है कि भारतीय दंड संहिता, 1860 की धारा 324 अब जमानती अपराध या गैर-बलीबल अपराध है। यदि आप दंड प्रक्रिया संहिता (संशोधन) अधिनियम, 2005 (2005 का संख्या 25) की धारा 42 उप-धारा (एफ) (iii) के माध्यम से जाते हैं, जो कहता है कि भारतीय दंड संहिता, 1860 की धारा 324 गैर-जमानती अपराध है।

फिर भी, बहुत से लोग इस बात को नज़रअंदाज़ करते हैं कि इस संशोधन के बाद भारत के राजपत्र में 21 जून, 2006 को एक अधिसूचना जारी की गई थी। इस अधिसूचना के अनुसार, भारतीय दंड संहिता, 1860 की धारा 324 गैर-जमानती अपराध नहीं है।

इस अधिसूचना की अनभिज्ञता के कारण, कुछ स्थानों पर, जिन व्यक्तियों को आईपीसी की धारा 324 के तहत अपराध के लिए गिरफ्तार किया गया था, उन्हें तुरंत जमानत नहीं मिल सकी, जबकि यह अभी भी जमानती अपराध है।

यह भी पढे 

 

धारा 324 आईपीसी मे वकील की क्या भूमिका होती है ?

धारा 324 आईपीसी मे वकील की एक बहुत बड़ी भूमिका होती है यह अपराध एक गंभीर प्रवर्ती का अपराध माना जाता है जिसमे आपकी कोर्ट से जमानत करवाने के लिए वकील की जरूरत होती है आपको अच्छी कानूनी सलाह वकील द्वारा ही दी जाती है

  ओर उसके साथ आपको मुकदमे मे निर्दोष साबित कराने मे वकील की बहुत आवश्यकता होती है वकील आपको आस नियुक्त करना है जो आपराधिक मुकदमे लड़ने मे पारंगत हो ओर अनुभवी हो आस वकील आपको नियुक्त करना होता है  इसलिए इस प्रकार के मुकदमों मे वकील की बहुत बड़ी भूमिका होती है 

 

Mylegaladvice ब्लॉग पर आने के लिए यहाँ पे ब्लॉग पढ़ने के लिए मैं आपका तह दिल से अभारी रहूंगा और आप सभी साथीयो दोस्तो का मैं बहुत बहुत धन्यवाद करता हु इस ब्लॉग के संबंध मे आपका कोई ही सवाल है जिसका जवाब जानने के आप इछुक है तो आप कमेंट बॉक्स मैं मूझसे पुछ सकते है।

9 thoughts on “SECTION 324 IPC IN HINDI पूरी जानकारी”

Leave a Comment