आईपीसी की धारा 376 क्या है SECTION 376 IPC IN HINDI इससे बचने के उपाय पूरी जानकारी

नमस्कार  दोस्तों 

आज हम आपसे बात करेंगे धारा 376 भारतीय दंड संहिता की क्या है। ओर इसके बचने के क्या उपाय है।ये धारा बलात्कार को परिभाषित करती है।ये एक ऐसे योन अपराध है जो मानव जीवन पर बहुत दुष्प्रभाव डालते है।

हमारे देश मे आये दिन महिलाओं पर अत्याचार होते आ रहे है और कई महिलाएं इसका शिकार भी हो रही है । ओर कई पुरुषों को भी झूठे मुकदमों में फसाया जा रहा है स्त्रियों द्वारा।।आओ दोस्तो आज हम इस धारा का पूरा वर्णन जानते है।।

Contents hide
1 आईपीसी की धारा 376 क्या है What is section 376 of IPC
1.4 आईपीसी की धारा 376 में दण्ड के प्रावधान Punishment provisions in section 376 of IPC

आईपीसी की धारा 376 क्या है What is section 376 of IPC

धारा 375 भारतीय दण्ड संहिता बलात्कार को परिभाषित करती है। यह यौन अपराधों से सम्बंधित है।ये अपराध केसी भी मानव शरीर पर प्रभाव डालने वाले अपराध है।बलात्कार और रेप भारतीय दण्ड संहिता की धारा 375 मैं परिभाषित किया गया है और धारा 376 भारतीय दण्ड संहिता मैं इसके दंड के प्रावधानों का विस्तार से उल्लेख किया गया है।

 यदि कोई व्यक्ति या पुरूष किसी महिला के मुँह या उसकी योनी या फिर मूत्रमार्ग में अपना लिंग डालता है।या किसी अन्य स्त्री के साथ करता है अपने शरीर का कोई भी हिस्सा महिला के योनि मैं प्रवेश करवाता है। मूत्रमार्ग में मुँह लगता है। तो इस कृत्य को भारतीय दण्ड संहिता में बलात्संग कहा गया है।या बालात्कार माना गया है।

किन परिस्थितियों के आधीन आता है

  1.  किसी महिला के इच्छा के बिना।
  2.  किसी महिला के सहमति के बिना ।
  3.  किसी महिला सहमति से जब कि उसको किसी ऐसे व्यक्ति को जिससे वह म्रत्यु या शारिरिक चोट के भय में डालकर की गई हो।
  4.  किसी महिला की सहमति से जबकि उस व्यक्ति को अच्छे से मालूम हो कि वह उसका पति नहीं है। लेकिन महिला उसे इसलिए सहमति दे कि वह उस पर विश्वास करती है। इस कोई और पुरूष है जिससे वह विवाहित है या विवाहित होने का विश्वास करती हो।
  5.   उस महिला की सहमति से जब वह सहमति दे के वक्त विकर्ताचित अवस्था मे या उस व्यक्ति को किसी अन्य के द्वारा कोई ऐसा प्रदार्थ दिए जाने के कारण उस बात की जिसके बारे मे वह परिणामों को समझने में परिपूर्ण नही है।
  6.  उस महिला की सहमति से या उसके बिना जब नाबालिग हो या अठारह वर्ष से कम आयु की हो।
  7.  जब वह महिला सहमति को समझने में असमर्थ हो।

क्या धारा 376 भारतीय दण्ड संहिता पत्नी के साथ संभोग करने पर भी लागु हो सकती है।

दोस्तो इसके बारे मे भी आपको मैं एक ऐसी जानकरी दे दे देता हूं जिसका जानना आपके लिए अतिआवश्यक है।कि हमारा कानून ऐसा बनाया हुआ है।कि किसी महिला से विवाह के पस्चात जब संभोग होता है। भले ही वह संभोग दोनो की सहमति से या रजामंदी से हुआ हो लेकिन लड़की की उम्र अगर 15 वर्ष से कम है। तो उसे बालात्कार ही माना जायेगा।

उच्च न्यायालय द्वारा ये भी आदेश पारित किया गया कि। 15 वर्ष से कम आयु वाली पत्नी के साथ संभोग करना भारतीय दण्ड संहिता की धारा 376 के अन्तर्गत अपराध माना गया है। जिसे तुरंत प्रभाव से लागू किया जाये।

section 452 ipc in hindi

section 188 ipc in hindi

क्या आपसी सहमति से बना संबंध बलात्कार की श्रेणी में आएगा या नही

हाइकोर्ट के द्वारा यह आदेश पारित किया गया है। अगर कोई 18 वर्ष से अधिक की लड़की रिलेशनशिप में किसी लड़के के साथ सहमति से संबंध बनाती है। ओर कुछ दिन बाद अगर दोनों के मध्य मन-मुटाव होता है या फिर कोई वव्यवहार खराब होता है । तो उसके बाद उस लड़के के वो बलात्कार का आरोप नही लगा सकती।न्यायालय ने यहाँ तक भी कहा है

कि हमारे समाज मे शारिरिक यौन संबंध बनाना ठीक नहीं माना जाता है। उस व्यक्ति से वह यौन संबंध बना रही है। उसे कभी मना नही किया हो अपनी सहमति दी हो। तो उसे सहमति से बनाया गया यौन संबंध ही माना जायेगा।

आईपीसी की धारा 376 में दण्ड के प्रावधान Punishment provisions in section 376 of IPC

भारतीय दंड संहिता की धारा 376 में दण्ड के प्रावधान किस प्रकार दिए हुए है।जिनके अंतर्गत हमारे कानून में नये संशोधन भी किये गए है।हम यहां पर जान सकते है। कोई भी व्यक्ति किसी के साथ बलात्संग या बलात्कार करेगा वह व्यक्ति कठोर कारावास से दंडित किया जायेगा जिसकी अवधि सात वर्ष से कम नही होगी एवम आजीवन करावास तक हो सकेगी ओर जुर्माने से भी दण्डनीय होगा ।

7 वर्ष का कठोर कारावास या आजीवन कारावास

अथवा आर्थिक दण्ड भी।

अपराध -गैर जमानती

न्ययालय-सत्र न्यायालय द्वारा विचारणीय

यह अपराध समझौता करने योग्य नही

 

यह भी पढे 

धारा 376 Aभारतीय दंड संहिता में दण्ड के प्रावधान Section 376 A Provisions for punishment in the Indian Penal Code

धारा 376 A क्या है इसमें दण्ड के क्या प्रावधान दिए गए है समय समय पर स्थित देखते हुए कुछ संशोधन भी हुए है हमारे कानून में।कोई व्यक्ति किसी महिला या स्त्री के बिना सहमती या उसके सहमति के उसे डरा धमका म्रत्यु के भय के आधार पर बलात्कार या बलात्संग करता है, जिसके द्वारा उस महिला या स्त्री की म्रत्यु हो जाती है। 

उस महिला दशा निष्क्रिय हो जाती है।उस स्थिति में उस व्यक्ति को न्यायालय द्वारा 20 वर्षों तक कारावास या आजीवन कारावास या म्रत्यु दण्ड के साथ साथ जुर्माने से भी दण्डनीय होगा।

यह भी पढे 

 

आईपीसी की धारा 376 AB भारतीय दंड संहिता में दण्ड के प्रावधान Section 376 AB of IPC Punishment provisions in the Indian Penal Code

भारतीय दंड संहिता की धारा 376 ab में दण्ड के प्रावधान कुछ इस प्रकार है। जो कोई भी व्यक्ति 12 वर्ष से कम की लड़की से बलात्कार या बलात्संग करेगा।जो कि गभीर अपराधो की श्रेणी में आता है। ओर पूर्ण रूप से दण्डनीय अपराध है।

जिसकी सजा 20 वर्ष तक का कठोर कारावास या आजीवन कारावास से एवं जुर्माने से भी दंडित किया जायेगा ।ओर जुर्माने की राशि उस पीड़ित लड़की को दी जायेगी जिससे उसका उपचार की पूर्ती हो पुर्ण रूप से हो सके।

 आईपीसी की धारा 376 B भारतीय दण्ड संहिता में दण्ड के प्रावधान Section 376B of IPC, provisions of punishment in the Indian Penal Code

भारतीय दंड संहिता की धारा 376 b में दण्ड के प्रावधान कुछ ऐसे दिए हुए है। जब कोई भी पति पत्नि दोनो अलग अलग रहे रो हो या किसी डिग्री के दायित्व के अधीन रहे रहे हो अलग।उस स्थिति में पति अपनी पत्नी के सात उसकी सहमती के बिना उसके साथ संभोग करता है या शारिरिक समंध बनाता है या मैथून करता है।

तो बलात्संग या बलात्कार माना जायेगा। उस अपराधी पति को न्यायालय द्वारा  दण्डित किया जायेगा जो कि सात वर्ष का कारावास या जुर्माने से अथवा दोनो से दण्डित किया जायेगा।

 आईपीसी की धारा 376 C भारतीय दंड संहिता में दण्ड के प्रावधान Section 376 C of IPC, provisions of punishment in the Indian Penal Code

भारतीय दंड संहिता की धारा 376 c में दण्ड के प्रावधान कुछ ऐसे दिए हुए है। जब कोई लोक सेवक या अधिकारी अपनी अभिरक्षा में या किसी संस्था का अधिक्षक या किसी हॉस्पिटल का कर्मचारी होते हुए ऐसी किसी स्थिति में किसी महिला को शारिरिक संभोग करने या मैथून करने के उत्प्रेरित करेगा या अपने अधिकार का दुरुपयोग करेगा तो ऐसा मैथून बलात्संग की श्रेणी मैं नही आएगा।लेकिन ऐसा करने वाले व्यक्ति को न्ययालय द्वारा 5 वर्ष तक का कारावास ओर जुर्माने से दंडित किया जायेगा।

 आईपीसी की धारा 376 D भारतीय दंड संहिता में दण्ड के प्रावधान

Section 376 D of IPC, provisions of punishment in the Indian Penal Code

भारतीय दंड संहिता की धारा 376 d में दण्ड के प्रावधान कुछ ऐसे दिए हुए है। यह धारा सामूहिक बलात्कार के लिए जो दण्ड के प्रावधान दिए गए है उनको परिभाषित करती है। एक या एक से अधिक लोगो द्वारा समान आश्रय से समुह बनाकर सामुहिक दुष्कर्म किया जाता है।

या बलात्संग किया जाता है ।तो उन सभी व्यक्तियो में से प्रत्येक व्यक्ति को बलात्संग का अपराधी माना जायेगा। जिसकी सजा 20 वर्ष का कारावास या आजीवन कारावास ओर जुर्माने से भी दण्डित किया जायेगा। लेकिन उस जुर्माने की राशि पीड़ित लड़की को चिकित्सा ख़र्च के लिए ओर पुनर्वास के लिए दी जायेगी।

 आईपीसी की धारा 376 DA भारतीय दण्ड संहिता में दण्ड के प्रावधान

Section 376 DA of IPC, provisions of punishment in the Indian Penal Code

भारतीय दंड संहिता की धारा 376 da में दण्ड के प्रावधान कुछ ऐसे दिए हुए है। किसी भी महिला या स्त्री या लड़की जिसकी उम्र 16 वर्ष से कम है।एक या एक से व्यक्तियों द्वारा समुह बनाकर सभी सामान आशय से सामुहिक ब्लात्कार या बलात्संग किया जाता है। तो उन उन व्यतियो में से प्रत्येक व्यक्ति को ब्लात्कार या बलात्संग का दोषी माना जायेगा। जिसको न्ययालय द्वारा आजीवन कारावास ओर जुर्माने से अथवा दण्डित किया जायेगा। जिसकी जुर्माने की धनराशि पीड़ित महिला को चिकित्सा उपचार के लिए दी जायगी।

 आईपीसी की धारा 376 DB भारतीय दंड संहिता में दण्ड के प्रावधान

Section 376 DB of IPC, provisions of punishment in the Indian Penal Code

भारतीय दंड संहिता की धारा 376 db में दण्ड के प्रावधान कुछ ऐसे दिए हुए है। किसी भी महिला या स्त्री या लड़की जिसकी उम्र 12 वर्ष से कम है।एक या एक से व्यक्तियों द्वारा समुह बनाकर सभी सामान आशय से सामुहिक ब्लात्कार या बलात्संग किया जाता है। तो उन उन व्यतियो में से प्रत्येक व्यक्ति को ब्लात्कार या बलात्संग का दोषी माना जायेगा। जिसको न्ययालय द्वारा आजीवन कारावास ओर जुर्माने से अथवा दण्डित किया जायेगा। जिसकी जुर्माने की धनराशि पीड़ित महिला को चिकित्सा उपचार के लिए दी जायगी।

 आईपीसी की धारा 376 से बचने के उपाय Measures to avoid section 376 of IPC

दोस्तो आज आपने बहुत से ऐसे मुकदमे देखे होंगे जिसमें मीडिया में या समाचार पत्र में भी खबर आती है की शादी का झांसा देकर 4 साल तक दुष्कर्म करता रहा ऐसी खबरें आपने भी सुनी होगी लेकिन हाईकोर्ट ने एक ऐसे मामले में अभियुक्त को बरी कर दिया है कोर्ट ने यह माना है की अगर लड़की बालिक है साउंड माइंड है तो कोई जबरदस्ती नहीं कर सकता

और मेडिकल रिपोर्ट में भी उसमें साबित हो रहा था कि ना तो कोई लड़की पर खरोच चोट आदि आई है तो इसमें यह आपसी सहमति से बनाए गए संबंध माने गए हैं ना ही मेडिकल रिपोर्ट में ऐसा कोई दस्तावेज या साक्ष्य प्रस्तुत हो रहा था कि जिस में ऐसा माना जाए कि यह दुष्कर्म किया गया हो।

ऐसे में ट्रायल कोर्ट द्वारा अभियुक्त की जमानत अर्जी को खारिज कर दिया जाता है लेकिन अगर अभियुक्त के पास अपने बचाव के लिए अगर सबूत हो रिकॉर्डिंग हो कोई डॉक्यूमेंट हो आदि को न्यायालय में पेश करने चाहिए उनके आधार पर भी अभियुक्त बच सकता है

कई बार झूठा दुष्कर्म का मुकदमा भी लगाया जाता है जिससे बहुत से व्यक्ति पीड़ित है इनके लिए यह महत्वपूर्ण बात है कि उनको अपने पक्ष के सारे सबूत मेडिकल रिपोर्ट्स आदि मेले के अंदर पेश करने होते हैं जिस आधार पर न्यायालय अपना फैसला देता है कई मामलों में अभियुक्त अगर झूठे मुकदमे में फंसते हैं तो बरी भी हो जाते हैं।

और जब आपको ऐसा लगता है कि आपके ऊपर बलात्कार का मुकदमा दर्ज हो गए हैं और आप के खिलाफ पुलिस आप को पकड़ने के लिए घूम रही है तो अगर आपको ऐसा लगता है कि लड़की ने पैसों के लालच के लिए ऐसा किया है तो ऐसा सबूत आपको पेश करना पड़ता है

और ऐसे में आप f.i.r. भी कुवश  करवा सकते हैं जो कि f.i.r. कुवश करवाने के लिए आपको धारा 482 दंड प्रक्रिया संहिता के अंतर्गत उच्च न्यायालय के अंदर प्रार्थना पत्र दाखिल करना होता है और उसके के साथ में सारे सबूत संलग्न करने होते हैं उस आधार पर भी उच्च न्यायालय द्वारा आपके fir को कुवश  कर सकता है अगर आपके पास सबूत मजबूत हो तो

इस प्रकार इस में थोड़े बहुत बचने के उपाय बताए गए हैं

 आईपीसी की धारा 376 भारतीय दंड संहिता मे  वकील की भूमिका क्या  होती है।

 धारा 376 भारतीय दंड संहिता एक संगीन एवम संगये अपराध है एवं गैर ज़मानती अपराध है। ये एक ब्लात्कार के लिए दण्ड का प्रावधान है।इसमे आरोपी का बच के निकलना बहुत मुश्किल होता है और न्ययालय से जमानत मिलना बहुत मुश्किल होता है।

इससे बचने के लिए एक अच्छे और निपुण वकील की अति आवश्यकता होती है।जो आपराधिक मुकदमे में पारंगत हो।वकील है एक ऐसा आदमी होता है जो आपको इस मुकदमे से अपराधी को बचाने के लिए लाभदायक सिद्ध हो सकता है 

कुछ लोग झूठे ब्लात्कार के मुकदमे मैं भी फस जाते है। जिनको एक अच्छा निपुण वकील की बहुत जरूरत होती है।जो उनको इस केस से बरी करा सकता है।वकील भी बहुत सोच समझ के किया जाना चाहिए। वकील आपके सबूतो ओर गवाहों के आधार पर आपके मुकदमे की पैरवी करता है। वकील ऐसा होना चाहिए जो 376 के मुकदमे को अच्छे से सुलझाने में सक्षम हो। ओर जिससे आपको मुकदमा जीतने में कामयाबी मिलने के अवसर बढ़ जाते है।

Mylegaladvice ब्लॉग पर आने के लिए यहाँ पे ब्लॉग पढ़ने के लिए मैं आपका तह दिल से अभारी रहूंगा और आप सभी साथीयो दोस्तो का मैं बहुत बहुत  धन्यवाद करता हु इस ब्लॉग के संबंध मे आपका कोई ही सवाल है जिसका जवाब जानने के आप इछुक है तो आप कमेंट बॉक्स मैं मूझसे पुछ सकते है।।

 

91 thoughts on “आईपीसी की धारा 376 क्या है SECTION 376 IPC IN HINDI इससे बचने के उपाय पूरी जानकारी”

      • Sir mere uper jutha fir 376 ka case hua hai or wo v ghatna ke 3 month ke baad sir ghatna wali date mai apni duty other distric mai tha or fir karne ke pehle maine crpc 39 ka pithisen v daal diya tha sir fir hue ajj 4 month ho gaye avi tk mujhe koi notice nhi ayi sir plz bataye mujhe antiseptorey bail milegi or meri government job pr iska kya aser hoga

        Reply
      • Namaste Sir Mai mannu Sir mere uper ak AK laski 376 lagvane ko apne ghar valo ke sat milkar sajis kar rahhi hai jo ki aisa kuch nahi hai vo ladki palhe mujse Love karti thi OR Ab apne ghar valo ka dabao Man kar aisa kar rahi hai or mere pas mere or uske photos Love letter bhi hai Ab ise kaise bacha jay sir

        Reply
      • Sir mere bhai jhute rape case me fsaya gya h jo 13 Sal ka hai.
        Or ldki 6 sal ki h ye case jhuta h or mere bhai ko jmanat nhi mil rhi or report ka bhi kuch pta nhi …

        Reply
        • तेरह साल का लड़का किशोर अपचारी बालक कहा जाता है जिसे उसके गार्जियन को सुपुर्द कर दिया जाता है जमानत करवाने वाली बात ही नहीं है किशोर न्याय बोर्ड में आवेदन करें बालक को सुपुर्दनामे पर लेने के लिए

          Reply
      • Sar mere upar 376 ka case chal raha hai aur charge hone wala hai Ab Mujhe Kya Karna Hai shaadi ka jhansa dekar Da
        Sal rape kya Mere Sath yah kaisa hai mere upar

        Reply
      • Sir mera bhai h usko rap ke jhute case me ander kiya gya h .
        Or uska medical ho gya h lekin police bale keh rahe ki humne abhi tak sample bheja nhi h kya esa ho sakta h ki sample hospital me liye gye ho or abhi tak janch ke liye nhi gye ho or is case me bel mil jayegi usko sir please btaye.

        Reply
      • Sir mera nam dhirendra hai
        aaj se 8 month pahle ek ladki mere sath ghar se baag ke saadi ki thi
        unki age aadhar card se 20 years tha and Mark sheet se 17.5 tha but hamari court married v ho chuki thi hm sb khus the
        but ladki ke ghar walon ne hamare khilaf complaint kiya tha fir mujhe jail ho gyi mere uper ipc 363’366’376 and 3/4 pacso lga tha
        ladki ka har ek byan mere faver me hi tha ladki mujhe sadi v krna chahyi hai but uske ghar wale nhi maan nhi rhe hai
        av mera bell ho gya hai mai bahar hu
        av ladki ki age v 18 ho chuki hai wo mere saath rahna chahyi hai aur mai v but uske ghar ke log raji nhi ho rhe hai to kya kre sir

        Reply
      • सर मेरे ऊपर झूठा केस किया है एक औरत ने और जिस दिन कि एफआईआर करवाई है उस दिन मैं वहां था भी नहीं में जहां था वहां की वीडियो भी है 376 का केस है और जान से मारने कि धमकी का केस किया है

        Reply
      • पाक्सो और बलात्कार का झूठा मामला दर्ज कराया है प्राथमिकी कथित रूप से पहले बलात्कार के 72 दिन बाद कराईं गई है एफआईआर में पहली बार सिर्फ बलात्कार करने का जिक्र किया है और प्रतिपरीक्षण में अभियुक्त के अधिवक्ता के पूछने पर तीन बार बलात्कार करना बताया पीड़िता ने धारा 164 के बयान में अभियुक्त से प्यार करने का भी कथन है और जबरन संबंध बनाना भी कहा है क्या इन सब बातों का अभियुक्त को कोई लाभ मिलेगा

        Reply
          • हां चार्ज भी लग चुका है और पीड़िता का न्यायालय में साक्ष्य भी आरोपी पांच माह से अधिक समय से जेल में बंद हैं

      • सर मेरे पति को 376 के झूठे केस फसाया जा रहा है।
        क्या करें कृपया बताएं।

        Reply
    • Sir mujh se ek ladka jabardasti bat karta hai mujhe dra dhmka ke ki tumhari ezat uchal dunga market me to mene kuchh din us se bat ki dar ke vajah se meri shope chalti market me to meri image Bahut thi o Es bat ka fayeda utha hai mene cash kiya sir bahut himat kar Faimly valo ko btaya to us record jo bhi bat hai to usko leke blackmail karta tha

      Reply
      • Sir mujh se ek ladka jabardasti bat karta hai mujhe dra dhmka ke ki tumhari ezat uchal dunga market me to mene kuchh din us se bat ki dar ke vajah se meri shope chalti market me to meri image Bahut thi o Es bat ka fayeda utha hai mene cash kiya sir bahut himat kar Faimly valo ko btaya to us record jo bhi bat hai to usko leke blackmail karta tha

        Reply
    • Sir mere pr bhi jhute aaorop lga diae gae hain jisme hm 10 mhina jel bhi kat chuke hain ab hmara case trial pr aap hmko bhi kuch sujhav de plz

      Reply
    • Hi mera rista fix ho gaya tha 4 years se aur uske dad k death k bad woh ek ladki se relationship mai aagaya but usko usse shadi nhi karna hai woh argi dali hai police wale bol rahe hai k shadi kar usse warna rape case mai under daldenge mai kya karu plz reply mere pass bs 2 din hai

      Reply
  1. Sir mere beta 21 Saal Ka hai aur uske upar ek 28 Saal ki aurat ne rape case krwa diya hai us aurat ka ek ladka bhe hai mere beta aur vo aurat ka apse me love realtionship tha vo khud Apni Marji se milti rhi hamere pass uski voice msgs WhatsApp megs bhe Hain aap koi solutions bta skte ho

    Reply
  2. आदरणीय
    मेरी 21 साल की एक किरायेदार जिससे की मेरा अफेयर था उसके पति को हमारे अफेयर का पता चलने के बाद मेरा मकान खाली करने के 3 माह बाद मुझ पर 376 2(न) में मुकदमा करवाया है। में जमानत पर हुँ। मेरे पास उसके और मेरे साथ खिंचे हुए अलग अलग समय के कई फ़ोटो ग्राफ है। उसके लिखे हुए लव लेटर है। जिनको उसने अपने बयान में एक्सिबिट भी किया है पर ये कहा है के वो सब जबरदस्ती लिखवाए गए हैं और फ़ोटो भी जबरदस्ती खिंचे गए है । मुझे अपने बचाव में और क्या क्या तैयारी रखनी चाहिए। किसी वजह से में उसकी और मेरी बातचीत के कॉल रिकार्ड्स को एक्सिबिट नहीं करवा पाया था। दुबारा उसके बयान करवाना चाहता हूं। कैसे संभव होगा। मार्गदर्शन करें। धन्यवाद

    Reply
    • मै हुकम सिंह जो पेशे से लाइट फिटिंग का काम करता हूं मुझे मेरे गांव की एक औरत ने मुझे फोन करके घर बुलाया और पैसे ऐठने के चक्कर में अपने पति के साथ प्लान बना कर मुझे MCB के खराब होने को लेकर घर बुलाया मैने देखा और प्लास मांगा तो उसने घर के अंदर दरी बिछाकर अपने कपड़े उतारने के साथ मुझे उसकाया की कोई नहीं है आ जाओ तो मैने बिना कुछ सोचे तुरन्त बाहर निकल गया तभी उसका पति आ गया और मुझे बुरा भला कहा और पत्नी की कहानी सुनकर कर मुझे बोला की कल वापस आना मैने उसे कहा कि
      अभी गांव के मोजीज लोगों को पूछताछ कर सकता है कि मेरा चरित्र के बारे जान सकता है

      Reply
  3. सर मेरे साले को धारा 457 370 में फसाया गया है ताकि वह उसकी आपसे संबंध आपसी सहमति से संबंध बनाए थे लेकिन वह बयान उसने पलट दी

    Reply
  4. सर जी मेरे यहां एक आदमी है जो अपने नाबालिग लड़की के दम pr लोगो को फसाता है और पैसा वसूलता है मेरे दोस्त को रेप में fir करवाया है लेकिन कोई सबूत नहीं मिला है दोस्त बाहर है लेकिन उसके खिलाफ कुछ करना चाहता है

    Reply
  5. Sir good morning sir mere Bhai ki Ghar wali n meri uper 376 ka jutha case kya h or f i r ab ki h wardat 10 manth pehle ki darsai h sir remain bacha ke liye Kya kara

    Reply
  6. Mere ko ek ladki rape case me fasana cahati hai meri sadi ko 20 sal hogye hai uski sadi ko bhi 8 sal ho chuke hai or ab dahmki de rhi,hai apkoq fasunngi uska husbad call msg krwata h mere pas usse uske ghar walo ko bola h mere ko dhoke se bhula kar marwaya usne 2 Sam pahle uske bhi saboot h mere pas m kya kru sir an un hit sujav de

    Reply
  7. Sir mera bhai 21 saal ka hai or vo kisi ladki se love krta thaa or un dono ne bhag kr shadi krli but ladki 17saal ki h esliy uska ghr walo ne uspr 376 pcso act lgwa diya hai jbki sb kuch dono ki mrji se hua hai ladki to ladka ki terf hi h uska sth hi rehna chahti hai sir plz meri help kro asa main kya krna chaiya plzzz help me

    Reply
  8. Sir ek girls ne sadhi ka jhasha dekar sambandh bnaye aur 7 saal tk sara kharcha liya, pure samaj me pta tha, lekin ab mna kr diya aur mere khilaf fir 354 me darj kra di, kya me uss ladaki pr fir kr skta hu

    Reply
  9. Sir meri bhabhi ne papa aur bhai jiski age 17 h uss ke upper 376 lagwai h aur hum logo par b case kiya h fasane ke liye kya isme anticipatory bail le sakte h

    Reply
  10. Sir 15 Saal ki upr ki ldki jisse Sadi krk sambandh bnaya gya hai Jo ki uski ptni hai to kya wo rape case me aayega ki nhi upr Jo Likha hai dand Sanhita me us Kathan Ka Kitna manyata hai sir please reply

    Reply
  11. तेरह साल का लड़का किशोर अपचारी बालक कहा जाता है जिसे उसके गार्जियन को सुपुर्द कर दिया जाता है जमानत करवाने वाली बात ही नहीं है किशोर न्याय बोर्ड में आवेदन करें बालक को सुपुर्दनामे पर लेने के लिए

    Reply

Leave a Comment